नवजात बच्चे के स्पर्श से कुछ ऐसे लौट आयी मां की जिंदगी

Sat, Oct 20, 2018 5:44 PM

किसी भी महिला के जीवन में मां बनने से बड़ा सुख कोई और हो नहीं सकता। माना जाता है कि मातृत्व से बढ़कर कुछ भी नहीं है। मां बच्चे के लिए मौत से किस तरह से लड़ जाती है, इसका ताजा उदाहरण ब्राजील में देखने को मिला है। एक मां जो अपने बच्चे को जन्म देने के लिए संघर्ष कर रही थी और कोमा में चली गई थी, नवजात बच्चे का उससे स्पर्श क्या हुआ कि वह होश में आ गई। इस महिला का नाम अमांडा डी सिल्वा है। उनकी उम्र 28 साल की है।

उन्हें मिर्गी के दौरे आते थे। जब उनका गर्भ 37 हफ्ते का हो गया तो किसी वजह से पति के साथ उनकी बहस हो गई। इसके बाद उनकी तबीयत खराब हो गई और वह कोमा में चली गईं। अमांडा पहले से तीन बच्चों की मां थीं। अब डॉक्टर के सामने अमांडा के गर्भ में चल रहे बच्चे को बचाना एक बड़ी चुनौती थी। 
डॉक्टरों ने कोमा में ही उसकी सर्जरी शुरू की। बच्चे का जन्म हो गया। वह 21 किलो का था। डिलीवरी हो गई, लेकिन अमांडा कोमा से बाहर नहीं आ पाई थी। तभी एक नर्स ने उसके बच्चे को अमांडा की छाती पर रख दिया। जैसे ही बच्चे का संपर्क मां से हुआ, उसके दिल की धड़कन बढ़ गई। इसके बाद वह बच्चे को छू कर रो पड़ी और धीरे-धीरे स्थिति इतनी सुधर गई कि वह घर भी आ गई।