#MeToo से आज भारत में मचा है बवाल, इसे शुरू करने वाली महिला से 3 बार हुआ था रेप

Thu, Oct 11, 2018 5:14 PM

आजकल भारत में #MeToo मूवमेंट से बवाल मचा हुआ है। सोशल मीडिया पर इस हैशटैग का इस्तेमाल कर महिलाओं और लड़कियां अपने साथ हुए यौन शोषण और रेप जैसी वारदातों का सच बता रही हैं। दरअसल भारत में इसकी शुरुआत तनुश्री दत्ता के विस्फोटक बयान से हुई जब उन्होंने एक घटना के लिए नाना पाटेकर को लपेटे में ले लिया। तनुश्री दत्ता ने आरोप लगाया कि नाना पाटेकर ने उनके साथ शारीरिक उत्पीड़न किया। इस मामले में तनुश्री ने नाना पाटेकर और कोरियोग्राफर गणेश आचार्य के खिलाफ पुलिस में केस भी दर्ज करा दिया है।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह आंदोलन भारत से पहले पूरी दुनिया में तहलका मचा चुका है? आपको इस आंदोलन को शुरू करने वाली महिला की दर्द भरी कहानी भी बताएंगे लेकिन उसस पहले जान लीजिए कि भारत में इस आंदोलन के तहत अबतक किन बड़े नामों पर आरोप लग चुके हैं। एक नाम टीवी की दुनिया के संस्कारी पुरुष के नाम से प्रसिद्ध ऐक्टर आलोक नाथ का है। इसी तरह मोदी सरकार के मंत्री एमजे अकबर पर भी महिलाओं ने आरोप लगाए हैं।

इसके अलावा क्वीन जैसी सुपरहिट मूवी बनाने वाले विकास बहल, मशहूर लेखक चेतन भगत और सिंगर कैलाश खेर जैसे बड़े नामों पर आरोप लग चुके हैं। दरअसल इस आंदोलन की शुरुआत 2006 में हुई। तराना बर्क नाम की नागरिक अधिकार कार्यकर्ता ने इस आंदोलन की शुरुआत की। यह आंदोलन यौन शोषण का शिकार हुई महिलाओं और लड़कियों को सपोर्ट देने के लिए था।

यह आंदोलन पिछले साल तब वायरल हुआ जब अमेरिका में हार्वी वाइन्स्टीन के यौन शोषणों का खुलासा हुआ। उस समय एक हिरोइन एलिसा मिलानो ने इस हैशटैग के साथ एक ट्वीट किया। यह ट्वीट काफी वायरल हुआ और उसके बाद से सोशल मीडिया पर लगातार इसका इस्तेमाल हो रहा है। आप कमेंट कर बताइए कि आपको यह जानकारी कैसी लगी? पीला बटन दबाकर हमें फॉलो कीजिए।