गोबर वाले इस गणपति की पूजा से खुल जाएंगे किस्मत के दरवाजे

Fri, Feb 1, 2019 6:44 PM

मध्य प्रदेश में एक मंदिर ऐसा भी है, जहां भगवान गणपति की गोबर और मिट्टी से बनी हुई हजारों साल पुरानी मूर्ति स्थापित है। यह मंदिर महेश्वर में महावीर मार्ग पर स्थित है। इस मंदिर की खासियत यह है कि गणपति की मूर्ति का एक बड़ा हिस्सा गोबर से बना हुआ है। 

गौरतलब है कि गोबर में पंचतत्व मौजूद माने जाते हैं। यह भी कहा जाता है कि गोबर में साक्षात मां लक्ष्मी वास करती हैं। इसलिए यह मान्यता है कि जो लोग इस मंदिर में गणपति की पूजा-अर्चना करते हैं, उनके जीवन में बड़ी सुख-समृद्धि आती है। इस मंदिर के बाहर का आकार मस्जिद के जैसा है। 

इसके बारे में कहा जाता है कि औरंगजेब के समय में मंदिर को तोड़कर मस्जिद बनाने का प्रयास किया गया था, जिस वजह से इसका बाहरी गुंबद मस्जिद की तरह नजर आता है। मंदिर के अंदर का हिस्सा लक्ष्मी यंत्र की तरह दिखता है। 

वैसे तो पूरे साल यहां आने वाले भक्तों का तांता लगा रहता है, मगर दीपावली के दौरान यहां पैर रखने की जगह नहीं होती। ऐसा कहा जाता है कि जो इस मंदिर में आकर सच्चे मन से भगवान गणपति की पूजा-अर्चना कर लेता है, उसके जीवन के सभी कष्ट दूर हो जाते हैं और जीवन में सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है।