गाजीपुर : पशुशाला में भी जानवरों को नहीं मिल रही राहत, आश्रय केंद्र ही बन रहा पशुओं की मौत का कारण

गाजीपुर 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कुछ दिन पहले बेसहारा पशुओं के लिये आश्रय स्थल बनवाने का फरमान जारी किया था। सरकार के आदेश पर कई जिलों में पशुशाला बनाया गया। गाजीपुर जिले में बनाए गए पशुशाला ही पशुओं की मौत का कारण बन रहा है। 

सड़क पर अवांरा पशुओं को, अन्ना जानवरों को, जो किसानों की खेती को बर्बाद कर रहे थे, जिन अन्ना पशुओं की वजह से शहरों में सड़क दुर्घटनाओं में वृद्धि हो रही थी। इन सभी समस्याओं से निपटने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश भर के सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिया था कि सभी जिले में पशु आश्रय केंद्र बनाया जाय। 

Image result for योगी आदित्यनाथ

गाजीपुर जिले के बमौरा गांव में भी ऐसा ही एक पशु आश्रय केंद्र बनाया गया लेकिन आज आश्रय की हालत बद से बदतर हो चुकी है। पशु आश्रय केंद्र ही पशुओं के मौत की वजह बन रहा है। इस आश्रय केंद्र में अब तक क दर्जन से ज्यादा बेसहारा पशुओं की मौत हो चुकी है।

पशुओं की मौत की वजह जहां ग्राम प्रधान कम जगह की वजह से छोटे पशुओं पर बड़े पशुओं के गिरने से बताया जा रहा है वहीं बीडीओ इसे छोटे पशुओं की सामान्य मौत बता रहे हैं। ग्राम प्रधान ने ये भी बताया कि सरकार ने पशुओं की देखरेख के लिये प्रति पशु 30 रुपया देने को कहा है पर अभी तक ये बजट नहीं आ रहा है हमलोग अपने स्तर से पशुओं की देखभाल कर रहे हैं।

Image may contain: 2 people