पढ़ें, ईवीएम पर निशाना साधा खुद के पैरों पर कुल्हाड़ी कैसे मार रहा विपक्ष?

Mon, Apr 15, 2019 4:14 PM

कांग्रेस, टीडीपी और आप सहित कई विपक्षी दलों ने लोकसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान समाप्त होने के बाद और दूसरे चरण के मतदान से पहले एक बार फिर से ईवीएम को लेकर विवाद खड़ा कर दिया है और उन्होंने इसमें गड़बड़ी होने की बात कही है। साथ ही मीडिया में ऐसी खबर भी आई है कि इसे लेकर वे सुप्रीम कोर्ट में जाने की तैयारी में हैं, लेकिन राजनीतिक विश्लेषकों के मुताबिक ईवीएम का मुद्दा इस वक्त उठाने की वजह से विपक्ष को खुद बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है।

ईवीएम का मुद्दा उठाने पर भाजपा की ओर से यही प्रतिक्रिया सामने आई है कि विपक्ष ने पहले ही अपनी हार को स्वीकार कर लिया है। इसलिए वह इसकी ठीकरा ईवीएम पर फोड़ना चाहता है। भाजपा के प्रवक्ता जीवीएल नरसिंहा राव ने बड़े ही तर्कसंगत तरीके से विपक्ष के ईवीएम में खराबी के दावों पर सवाल उठाया है।

राव ने कहा है यही कांग्रेस जब राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव में जीती तो उसे ईवीएम खराब नजर नहीं आया। अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की 70 में से 67 जीतें जीत ली, मगर उन्हें भी जब ईवीएम में कोई दिक्कत नजर नहीं आई। चंद्रबाबू नायडू भी चुनाव जीते, पर जीतने के बाद उन्हें ईवीएम को लेकर कोई समस्या नहीं थी। ऐसे में आखिर अब इस पर सवाल उठाने का क्या मतलब है, यह जनता को अच्छी तरह से समझ में आ रहा है।