भारत छोड़ो आंदोलन के 77वीं वर्षगांठ पर नगरपालिका अध्यक्ष सरिता अग्रवाल ने किया वृक्षारोपण

Fri, Aug 9, 2019 1:01 PM

गाजीपुर 09 अगस्त। हमारे देश भारत की संस्कृति एवं सभ्यता वनों में ही पल्लवित तथा विकसित हुई है । वृक्षारोपण से प्रकृति का संतुलन बना रहता है वृक्ष अगर ना हो तो नदियां ना ही जल से भरी रहेंगी और ना ही सरिता ही कल कल ध्वनि से प्रभावित होंगी। उपरोक्त बातें नगर पालिका परिषद गाजीपुर की अध्यक्ष श्रीमती सरिता अग्रवाल ने भारत छोड़ो आंदोलन के 77वीं वर्षगांठ पर नगर के विभिन्न स्थानों पर पौधरोपड़ करने के पश्चात कही। उन्होंने कहा कि वृक्षारोपण मानव समाज का सांस्कृतिक दायित्व भी है क्योंकि वृक्षारोपण हमारे जीवन को सुखी संतुलित बनाए रखता है। 

पूर्व नपा अध्यक्ष विनोद अग्रवाल ने कहा कि आज लोग वनों तथा वृक्षों की महत्ता को एक स्वर से स्वीकार कर रहे हैं। वृक्ष हमारे जीवन की अनिवार्य आवश्यकता है। देश की समृद्धि में हमारे वृक्ष का भी महत्वपूर्ण योगदान है इसलिए प्रत्येक नागरिक को अपने लिए और अपने समाज के लिए वृक्षारोपण करना बहुत जरूरी है।

उन्होंने आगे बताया कि शासन से मिलें वृक्षारोपण के लक्ष्य की पूर्ति कर ली गयी है। जिसमें गाजीपुर नगर के जलकल प्रांगण, आमघाट गांधी पार्क, मिश्रबाजार से भूतहियाताड़ विवेकानंद कालोनी तक, लंका मैदान, रविन्द्र नाथ टैगोर पार्क, रिवर बैंक कालोनी पार्क, विकास भवन से पीजी कालेज चौराहें तक सड़क के किनारें, पीजी कालेज से फाक्सगंज, सिचाई विभाग चौराहे से पुलिस लाइन तक वृक्षारोपण किया गया है। 

इस अवसर पर प्रमुख रूप से नपा अधिशासी अधिकारी मनोज बिंद, अधिशासी अधिकारी जलकल पूजा सिंह, नगर अध्यक्ष भाजपा रासबिहारी राय, सभासदगण संजय कटियार, राधिका कटियार, कमलेश बिंद, सोमेश मोहन राय, अजय राय दारा, परवेज अहमद, रामेश्वर तिवारी, अशोक कुशवाहा, संजय कुमार, दिग्विजय पासवान, कमेलश श्रीवास्तव, शेषनाथ यादव, ओमप्रकाश तिवारी बच्चा, गर्वजीत सिंह, सत्यम राय, अजय कुशवाहा, निशांत सिंह, रंजीत पांडेय, जावेद अहमद, राकेश त्यागी, प्रशांत राय, राजन प्रजापति और भाजपा आईटी विभाग के जिलासंयोजक कार्तिक गुप्ता सहित आदि अन्य लोग उपस्थित रहें।