गाजीपुर सदर विधायक संगीता बलवंत ने किस चीज़ का किया शुभारंभ, जानिए

गाजीपुर। जिले में 31 जुलाई तक चलने वाले विश्व जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा का शुभारंभ शनिवार को जिला महिला अस्पताल में सदर विधायक डा. संगीता बलवंत ने दीप प्रज्जवलित कर किया। इस मौके पर उन्होंने आपदा में भी परिवार नियोजन की तैयारी सक्षम राष्ट्र और परिवार की पूरी जिम्मेदारी की थीम पर जोर दिया गया। 

इस अवसर पर एसीएमओ एवं नोडल अधिकारी डा. केके वर्मा ने बताया कि 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस मनाने की शुरुआत सन् 1989 में संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम के द्वारा की गई थी। लगातार बढ़ती जनसंख्या को ध्यान में रखते हुए इस दिवस को मनाने और जारी रखने का निर्णय लिया गया। भारत में पहली बार यह दिवस सन् 1990 से शुरू किया गया। उन्होने बताया कि मौजूदा समय में भारत की जनसंख्या 1.3 करोड़ है। यदि हम आज जनसंख्या को स्थिर करने के बारे में नहीं सोचेंगे तो साल 2025 तक यह नियंत्रण के बाहर हो जाएगा और भारत जनसंख्या के मामले में पहले पायदान पर पहुंच जाएगा। बताया कि जनसंख्या बढ़ने के पीछे परिवार को नियोजित न रख पाने के साथ ही कई अन्य कारण भी हैं, जिसकी वजह से लगातार जनसंख्या में बढ़ोतरी हो रही है।

जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा आज शुरू किया गया है जो 31 जुलाई तक मनाया जाएगा। इस दौरान शहर एवं ग्रामीण स्वास्थ्य केंद्रों पर अंतरा, छाया, कंडोम, माला एन, पीपीआईयूसीडी, इंटरवल आयूसीडी की सेवाएं प्रदान की जाएंगी। पखवाड़े के दौरान जनसाधारण का संवेदीकरण किए जाने के लिए विभिन्न स्तरों पर व्यापक व सघन प्रचार-प्रसार करना है। विभिन्न प्रचार-प्रसार साधनों के माध्यम से उचित उम्र पर विवाह, बच्चों के जन्म में अंतर रखने, प्रसव पश्चात परिवार नियोजन की सेवाएं, परिवार नियोजन में पुरुषों की भागीदारी, गर्भ समापन पश्चात परिवार नियोजन की सेवाओं के संदर्भ में व्यापक रूप से प्रचार-प्रसार किया जाएगा कार्यक्रम में एसीएमओ डा. डीपी सिन्हा, डा. सर्वजीत, डा. गुलाब, डीपीएम प्रभुनाथ, तबरेज अंसारी, अमित राय आदि मौजूद रहे।