spot_img

यात्रियों के लिए अच्छी खबर : 11 जोड़ी पैसेंजर के लिए जारी होंगे एमएसटी

पैसेंजर ट्रेनों (सवारी गाड़ी) से यात्रा करने वाले लोकल यात्रियों के लिए राहत भरी खबर है। रेलवे बोर्ड के दिशा-निर्देश पर पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने मासिक सीजन टिकट (एमएसटी) की बिक्री की तैयारी शुरू कर दी है। लखनऊ मंडल प्रशासन ने 11 जोड़ी पैसेंजर ट्रेनों के एमएसटी के लिए प्रस्ताव तैयार कर मुख्यालय गोरखपुर को भेज दिया है। मुख्यालय गोरखपुर की हरी झंडी मिलते ही एमएसटी की बुकिंग शुरू हो जाएगी।

11 जोड़ी पैसेंजर के लिए जारी होंगे एमएसटी। प्रतीकात्मक तस्वीर

वाराणसी और इज्जतनगर मंडल ने भी एमएसटी की बिक्री के लिए तैयारी की शुरू

जानकारों के अनुसार वाराणसी और इज्जतनगर मंडल ने भी एमएसटी की बिक्री की तैयारी शुरू कर दी है। एमएसटी सिर्फ पैसेंजर (सवारी गाड़ियों) ट्रेनों के लिए ही मान्य होंगे। दरअसल, पैसेंजर ट्रेनों में ही जनरल टिकट बुक हो रहे हैं, जबकि, स्पेशल एक्सप्रेस में सिर्फ आरक्षित टिकट ही बिक रहे हैं। फिलहाल, रेलवे बोर्ड ने एमएसटी की बुकिंग का अधिकार जोनल कार्यालय को दे दिया है। बोर्ड ने कहा है कि मांग के आधार पर जोनल स्तर पर निर्धारित रूट और ट्रेनों के लिए एमएसटी जारी किए जा सकते हैं। बोर्ड के दिशा-निर्देश पर पूर्व मध्य रेलवे, उत्तर मध्य रेलवे और उत्तर रेलवे ने एमएसटी की बुकिंग शुरू कर दी है। बगहा से गोरखपुर के लिए एमएसटी बुक होने लगे हैं। पूर्वोत्तर रेलवे में भी एमएसटी जारी करने की मांग जोर पकड़ने लगी है। लोग रेलवे प्रशासन और जनप्रतिनिधियों को एमएसटी जारी कराने के लिए ज्ञापन सौंप रहे हैं। पिछले साल लाकडाउन से ही एमएसटी की बुकिंग पर रोक लगी है। जबकि, आरक्षित, जनरल और प्लेटफार्म सहित सभी तरह के टिकट बिक रहे हैं।

यह भी जानें

– अधिकतम 150 से 160 किमी तक का बनता है मासिक, त्रमासिक, छमाही व वार्षिक सीजन टिकट।

– यात्रियों को किराये में 25 फीसद तक की रियायत मिलती है। रोजाना बुक नहीं करना पड़ा है टिकट

– जनप्रतिनिधियों की पहल पर कामगारों को तो महज 25 रुपये में बन जाता है इज्जत मासिक टिकट।

Input – Jagran

Must Read

Related Articles