spot_img

छतरपुर जिले की दूसरी फोर लेन सड़क के लिए योजना तैयार, पूरे बुंदेलखंड की जनता को होगा लाभ

232 किलोमीटर लंबे कानपुर-सागर नेशनल हाइवे 34 की चौड़ाई फोर लेन करने की तैयारी शुरू हो चुकी है; आवश्यकतानुसार जमीन के अधिग्रहण के लिए भू-स्वामीयों को नोटिस जारी किए जा रहे हैं। छतरपुर जनपद से होकर जाने वाली यह दूसरी फोर लेन सड़क है जिसके निर्माण के लिए छतरपुर जनपद की चार तहसीलों महाराजपुर, छतरपुर, बिजावर व बड़ामलहरा के कुल 57 ग्राम सभाओं से भूमि का अधिग्रहण किया जाना है। निर्माण कार्य शुरू करने के लिए सबसे पहले महाराजपुर तहसील के भू-स्वामीयों को नोटिस भेजा जा रहा है।

राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण व तहसीलों से दी गई जानकारी के अनुसार सागर-कबरई फोर लेन निर्माण के लिए बड़ामलहरा तहसील की भिलवार, गोरा, बमनौराखुर्द, घिनौची, रजपुरा, नदिया, टौरिया, भनगुवां, मौली, मेलवार, परा, किवलाई, अरोल, मवई, रानीखेरा, सड़वा, सूरजपुरा रोड, मुंगवारी, डोंगरा, कम्मोदपुरा व कनेरा आदि ग्राम सभाओं से; बिजावर तहसील की निवार, मड़देवरा, चौकी, लहर, दरगुवां, कल्दा, रजपुरा, गुलगंज, अनगौर व बिलवार आदि ग्राम सभाओं से तथा छतरपुर तहसील की पलटा, खैरों, परा, चौका, मातगुवां, बूदौर, ढड़ारी, देरी, कतरवारा, पठापुर, नारायणपुरा, सौंरा, टड़ेरा, हमा, खौंप, बारी व निवारी आदि ग्राम सभाओं से और महाराजपुर तहसील की कुर्राहा, ऊजरा, बेदर, गौरारी, मलहरा, व गढ़ीमलहरा आदि ग्राम सभाओं से ज़मीन का अधिग्रहण किया जाएगा।

सागर लखनऊ इकोनॉमिक कॉरिडोर में कानपुर (कबरई) से लेकर सागर तक फोर लेन सड़क का निर्माण किया जाना है। 232 किलोमीटर लंबे इस फोर लेन सड़क के बन जाने से समूचे बुंदेलखंड की जनता को इसका सीधा फायदा होने वाला है। निर्माण के लिए प्रस्तावित फोर लेन सड़क को भविष्य में सिक्स लेन बनाने के उद्देश्य से अंडरपास व एलीवेटेड पुलों का निर्माण किया जाएगा। खबरें हैं कि एनएचएआइ प्रोजेक्ट ऑफिस छतरपुर की टीम द्वारा महोबा से सागर के बीच हाइवे के निर्माण की योजना को अंतिम रूप दे दिया गया है।

Must Read

Related Articles